Home Power Links Contact Us Hindi Site

टीएचडीसी इंडिया लि. में हिंदी पखवाड़ा ह­र्षोल्लास से मनाया गया

टीएचडीसी इंडिया लि. ऋ­षिकेश स्थित मुख्यालय में हिंदी पखवाड़ा का शुभारंभ हिंदी दिवस के अवसर पर 14 सितंबर, 2012 को माननीय अतिथि डॉ. कल्‍पना पंत, प्रोफेसर (हिंदी) , पं ललित मोहन शर्मा स्‍नातकोत्‍तर महाविद्यालय, ऋषिकेश की उपस्‍थिति में निगम के अपर महा प्रबंधक(का. भर्ती एवं औ.सं.), श्री सी. मिन्‍ज द्वारा किया गया। इस अवसर पर हिंदी दिवस पर निगम के अध्‍यक्ष एवं प्रबंध निदेशक द्वारा जारी अपील पढ़कर सुनाई गई। जिसमें मुख्‍यत: इस बात पर बल दिया गया था कि हिंदी के विकास में निगम में प्रत्‍येक कर्मचारी को भागीदार बनना है तथा निगम के प्रत्‍येक कार्य क्षेत्र में हिंदी का अधिकाधिक प्रयोग करना है। हिंदी दिवस के अवसर पर उसी दिन हिंदी निबंध प्रतियोगिता का आयोजन भी किया गया।

हिंदी पखवाड़ा 14 से 28 सितंबर, 2012 तक ह­र्षोल्लास पूर्वक मनाया गया। पखवाड़े का समापन एवं पुरस्कार वितरण समारोह दिनांक 28.09.2012 को संपन्न हुआ। समारोह की अध्यक्षता निगम के महाप्रबंधक (कार्मिक एवं प्रशासन) श्री एस.के. बिस्वास ने की श्री बिस्वास ने पखवाड़े के दौरान आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं जैसे- हिंदी निबंध, नोटिंग एवं ड़ाफ्टिंग, अनुवाद, सुलेख, टंकण, स्वरचित हिंदी काव्य पाठ, वाद विवाद एवं हिंदी प्रश्नोत्तरी के विजेता अधिकारियों कर्मचारियों को बधाई देते हुए पुरस्कृत किया

निबन्ध प्रतियोगिता में श्रीमती सरला डबराल प्रथम,श्री आर.के.मीना -द्वितीय, श्रीमती रूचि हांडा -तृतीय तथा श्री मनोहर लाल डोभाल एवं श्री दिलीप कुमार द्विवेदी ने सांत्वना पुरस्कार प्राप्त किया। नोटिंग-ड्राफ्टिंग प्रतियोगिता में श्री दीपक उनियाल-प्रथम, श्री एस.के.शर्मा-द्वितीय, श्री दिलीप कुमार द्विवेदी-तृतीय तथा श्री पी.सी.थपलियाल एवं श्री दीपक कुमार साव ने सांत्वना पुरस्कार प्राप्त किया। अनुवाद प्रतियोगिता में श्री दीपक कुमार साव-प्रथम, श्री दिलीप कुमार द्विवेदी -द्वितीय, श्री किशोर सिंह पुण्डीर-तृतीय तथा श्री पी.सी.थपलियाल एवं श्री आर.पी.रतूड़ी ने सांत्वना पुरस्कार प्राप्त किया। सुलेख प्रतियोगिता में श्री दीपक कुमार साव -प्रथम, श्रीमती हिना रंक -द्वितीय, श्री कपिल राजू-तृतीय तथा श्री दिलीप कुमार द्विवेदी एवं श्री आर.पी.रतूड़ी ने सांत्वना पुरस्कार प्राप्त किया। टंकण प्रतियोगिता में श्री नेकी राम-प्रथम, श्री विनोद सिंह-द्वितीय, श्री एस.पी.थपलियाल-तृतीय तथा श्री बीर सिंह रावत एवं श्री मोहन लाल नौटियाल ने सांत्वना पुरस्कार प्राप्त किया। स्वरचित काव्य पाठ प्रतियोगिता में श्री मनोहर लाल डोभाल -प्रथम, श्रीमती रश्मि बडोनी-द्वितीय, श्री बी.पी. डोभाल -तृतीय तथा श्री शंशाक लाल एवं श्री आर.के.मीना ने सांत्वना पुरस्कार प्राप्त किया। वाद-विवाद प्रतियोगिता में श्री एस.जी. गोस्वामी -प्रथम, श्री दिलीप कुमार द्विवेदी -द्वितीय, श्री शंशाक लाल -तृतीय तथा श्री सचिन मित्तल एवं श्री बी.पी.डोभाल ने सांत्वना पुरस्कार प्राप्त किया। इनके अलावा राजभाषा हिन्दी में सर्वाधिक कार्य करने वाले कर्मचारियों में श्री दिनेश चन्द्र भट्ट एवं श्री जे.एल.भारती-प्रथम, श्री बी.डी.भट्ट, श्री दीपक उनियाल एवं श्री आर.एन.भारद्वाज-द्वितीय तथा श्री बी.पी.डोभाल, श्री राजीव सिंह नेगी, श्री यू.बी.सिंह, श्री दिलीप कुमार द्विवेदी व श्री नेकी राम-तृतीय पुरस्कार प्राप्त किया। इनके अलावा विभागाध्यक्षों एवं अनुभागाध्यक्षों की श्रेणी में राजभा­षा कार्यान्वयन में महत्वपूर्ण योगदान हेतु श्री एच.एल.अरोड़ा को प्रथम, श्री सी.मिन्ज को द्वितीय एवं श्री वी.के.बडोनी को तृतीय पुरस्कार से सम्मानित किया गया। हिंदी में अधिक से अधिक डिक्टेशन देने वाले विजेता अधिकारियों में श्री अजय कुमार माथुर-प्रथम (हिंदी क्षेत्र), श्री गोपालकृ­णन पी.सी- प्रथम(हिंदीतर क्षेत्र)एवं वी.के.बडोनी एवं एस.के. भट्टाचार्जी द्वितीय रहे। सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों को नकद पुरस्‍कार वितरित किए गए। पूरे वर्ष के दौरान हिंदी में सर्वाधिक कामकाज करने हेतु अंतर विभागीय चल राजभाषा शील्‍ड योजना के अंतर्गत वाणिज्‍यिक विभाग को लगातार तीसरे वर्ष यह शील्‍ड प्रदान की गई । कारपोरेट नियोजन विभाग को उल्‍लेखनीय कार्य हेतु विशेष अंतर विभागीय चल राजभाषा शील्‍ड से सम्‍मानित किया गया।

महाप्रबंधक ने अपने संबोधन में हिंदी राजभा­षा के बारे में जिक्र करते हुए कहा कि राजभा­षा वैश्विक स्तर पर अपनायी जा रही है, इसका जीता जागता उदाहरण जोहांसबर्ग, दक्षिण अफ्रीका में आयोजित किया गया विश्‍व हिंदी सम्‍मेलन है जिसमें हिंदी को अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर पर स्‍थापित करने पर बल दिया गया है। उन्‍होंने निगम को इंदिरा गांधी राजभाषा पुरस्‍कार का लगातार तीसरी बार तृतीय पुरस्‍कार मिलने पर इस उपलब्‍धि के लिए हिंदी अनुभाग तथा समस्‍त कर्मचारियों को बधाइयां दी तथा यह बताया कि शायद विरला ही कोई निगम होगा जिसने लगातार यह उपलब्‍धि प्राप्‍त की हो। उन्‍होंने इस अवसर पर सभी कर्मचारियों से आहवान किया कि हिंदी को सरकारी काम-काज में व्यापक तौर पर निगम के हर क्षेत्र में प्रयोग करें। हिंदी प्रभारी श्री सी.मिन्ज, अपर महाप्रबंधक(का.-भर्ती एवं औद्यो.संबंध) ने हिंदी पखवाड़ा के सफलता पूर्वक संपन्न होने पर सभी अधिकारियों/कर्मचारियों एवं उससे जुड़े सहयोगियों को धन्यवाद ज्ञापित किया। कार्यक्रम का संचालन प्रबंधक(हिंदी),श्री अशोक कुमार श्रीवास्तव ने किया।

 
             
Site Designed & Developed by IT Department, THDC India Limited